मुझे कुर्सी और पद का लालच नहीं : कमलनाथ

0
5

मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने आज कहा कि उन्हें कुर्सी और पद का लालच कतई नहीं है, इसलिए उन्होंने सौदेबाजी की राजनीति कभी नहीं की। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रायसेन जिले के सांची विधानसभा क्षेत्र के अधीन गैरतगंज और सागर जिले की सुरखी विधानसभा के तहत बिलहरा में चुनावी सभाओं को संबोधित किया।
श्री कमलनाथ ने अपनी पूर्ववर्ती सरकार की उपलब्धियां गिनायीं और दावा किया कि उन्होंने सौदेबाजी करके अपनी सरकार बचाने का कार्य नहीं किया। क्योंकि उन्हें पद और कुर्सी का लालच नहीं है। वे सौदेबाजी करके प्रदेश की राजनीति को कलंकित करना नहीं चाहते थे।
मध्यप्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता कमलनाथ ने कहा कि वे छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र से लगभग 40 वर्षों तक सांसद रहे। वहां पर विकास किया और वास्तविकता वहां पर जाकर कोई भी देख सकता है। उन्होंने कहा कि वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी सांसद रहे, लेकिन वे अपने क्षेत्र का विकास नहीं कर पाए। ऐसे व्यक्ति से क्या पूरे प्रदेश के विकास की अपेक्षा की जा सकती है। श्री कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस पार्टी सभी नागरिकों को एकसाथ लेकर कार्य करना चाहती है। यही इस देश की संस्कृति है। यह देश विविधताओं वाला है। उन्होंने राज्य में 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनावों को असाधारण बताते हुए कहा कि यह इस प्रदेश, किसानों और युवाओं का भविष्य तय करेगा। पूर्व मुख्यमंत्री ने उपचुनाव में सच का साथ देने का नागरिकों से अनुरोध करते हुए कहा कि आरोप लगाया कि राज्य में सौदेबाजी कर सरकार बनाने का कार्य भाजपा ने किया है। राज्य विधानसभा उपचुनावों के लिए प्रचार का कार्य एक नवंबर की शाम को थम जाएगा और तीन नवंबर को मतदान होगा। मतगणना के बाद नतीजे 10 नवंबर को घोषित होंगे। 28 क्षेत्रों में एक दर्जन मंत्री समेत 355 प्रत्याशियों की किस्मत दाव पर लगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here