स्कूल खोलने को लेकर दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, डिप्टी CM का सामने आया ये बयान

0
9

दिल्ली के डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि राष्ट्रीय राजधानी के सभी स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे. हालांकि वर्तमान में जारी ऑनलाइन -सेमीऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी. इससे पहले दिल्ली सरकार ने 31 अक्टूबर तक सभी स्कूलों को बंद रखने का फैसला किया था. इसके अलावा शिक्षा मंत्री ने आईपी यूनिवर्सिटी के कॉलेजों में सीटें बढ़ाने की भी घोषणा की.

मनीष सिसोदिया ने प्रेस कान्फ्रेंस में बताया, “मुझे पैरेंट्स और टीचर्स की ओर से यही सुझाव मिल रहे हैं कि अभी स्कूल न खोले जाएं. एक साथ 200-400 बच्चे स्कूल में आने लगेंगे तो बच्चों में कोरोना फैलने की संभावना है.”

मनीष सिसोदिया ने कहा कि दुनिया में देखा गया है कि जहां जहां भी स्कूल खोले गए हैं, वहां बच्चों में कोरोना बढ़ा है. उन्होंने कहा कि एक पैरेंट के तौर पर भी हमने ये फैसला लिया है.

डिप्टी सीएम ने कहा, “इसलिए दिल्ली सरकार ने फैसला लिया है कि अभी दिल्ली में स्कूल नहीं खुलेंगे. सरकारी, प्राइवेट, नगर निगमों के सभी स्कूल अगले आदेश तक दिल्ली में बंद रहेंगे. इसके बारे में जब भी फैसला लिया जाएगा सूचित कर दिया जाएगा.”

दिल्ली में कोरोना की वजह से सभी स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे. वर्तमान में जारी ऑनलाइन -सेमीऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी.

— Manish Sisodia (@msisodia) October 28, 2020

मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली सरकार ने फैसला लिया है कि इस साल दिल्ली के इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी के सभी कॉलेजों में 1330 सीटें बढ़ाई जाएंगी.

Delhi Government has decided to increase 1330 seats in colleges that are under IP University: Manish Sisodia, Delhi Education Minister https://t.co/I2PoxjHJZ5

— ANI (@ANI) October 28, 2020

डिप्टी सीएम ने बताया कि सबसे ज्यादा 630 सीटें बी टेक में बढ़ाई गई हैं. इसके अलावा बीबीए में 120 सीटें, बी कॉम में 220 सीटें, बीए इकोनॉमिक्स में 120 सीटें, बीसीए में 90 सीटें, एमबीए में 60 सीटें और एमएससी योगा में 15 सीटें बढ़ाई गई हैं. इसके अलावा भी कुछ और कोर्स की सीटों में इज़ाफा किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here