IPL : Kolkata और Punjab के मैच में आज कौन मारेगा बाजी, प्ले ऑफ में पहुंचने पर होगी नजरें

0
9
 आईपीएल-13 में आज कोलकाता नाइट राइर्डस के सामना किंग्स इलेवन पंजाब से शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में होगा। दोनों टीमें प्लेऑफ की रेस में बनी हुई हैं। कोई भी टीम हारना नहीं चाहेगी। क्योंकि यह उनके प्लेऑफ में क्वालीफाई करने के अभियान को पीछे धकेल देगी। दोनों ने लीग में अभी तक एक समान 11-11 मैच खेले हैं, लेकिन 2 अंकों का फासला दोनों टीमों के दरमियान है। कोलकाता 12 अंक लेकर चौथे स्थान पर है वहीं पंजाब 10 अंक लेकर पांचवें स्थान पर है। एक मैच में भी हार पंजाब को बाकी टीमों के आंकड़ों पर निर्भर बना देगी। वहीं कोलकाता भी अगर 2 मैच हार जाती है, तो वह दूसरी टीमों के आंकड़ों के भरोसे रहेगी।
कोलकाता के लिए पिछले मैच में एक अच्छी बात यह रही कि सुनील नरेन से टीम को जिस तरह की बल्लेबाजी की उम्मीद थी, नरेन ने वो दिखाई और अगर उसी फॉर्म को जारी रखते हैं, तो पंजाब के लिए मुश्किल होगी। कोलकाता ने पिछले मैच में अपनी सलामी जोड़ी में एक बार फिर बदलाव किया था। नीतीश राणा को शुभमन गिल के साथ पारी की शुरूआत करने भेजा था। राहुल त्रिपाठी नंबर-3 पर आ गए थे।राणा ने 81 रनों की पारी खेली थी और नरेन के साथ मिलकर 115 रनों की साझेदारी कर टीम को प्रबल स्कोर दिया था। गिल, त्रिपाठी और दिनेश कार्तिक विफल रहे थे। इन तीनों में से गिल और त्रिपाठी तो फॉर्म में हैं, लेकिन कार्तिक के प्रदर्शन में निरंतरता देखने को नहीं मिल रही है। गेंदबाजी में पैट कमिंस ने वो फॉर्म दिखाई जिसकी उम्मीद उनसे लंबे समय से की जा रही थी और 5 विकेट लेने वाले वरुण चक्रवर्ती ने कुलदीप यादव के ऊपर अपने चयन को सही साबित किया है। कोलकाता की गेंदबाजी में शिवम मावी, कमलेश नागरकोटी और प्रसिद्ध कृष्णा ऐसे युवा गेंदबाज हैं जो लगातार अच्छा कर रहे हैं।
नए कप्तान इयोन मोर्गन की कप्तानी में टीम नई तो दिख रही है, लेकिन उसके लिए जरूरी है कि वह लीग के इस अहम पड़ाव पर निरंतरता बनाए रखे और गलतियां नहीं करें। गलतियों की गुंजाइश पंजाब के लिए और भी कम है। उसे हर मैच में जीत के पायदान पर खड़ा होना होगा। टीम ने पिछले मैच में जिस तरह 126 के रनों का स्कोर का बचाव किया वो लाजवाब था। हैदराबाद जीत की तरफ जाती दिख रही थी और तभी पंजाब ने अपने गेंदबाजों के दम पर बाजी पलट उससे जीत छीन ली। यह जीत पंजाब को वह जरूरी आत्मविश्वास और भरोसा देगी। जिसकी जरूरत इस समय टीम को है। मयंक अग्रवाल पिछले मैच में नहीं खेले थे। उनकी जगह मनदीप सिंह ने लोकेश राहुल के साथ पारी की शुरूआत की थी। मयंक को लेकर टीम प्रबंधन का किसी तरह का बयान नहीं आया है। वह खेलेंगे या नहीं मैच के दिन ही पता चल पाएगा। लेकिन पंजाब की एक चिंता अभी तक बरकरार है जो उसे गहरी चोट पहुंचा सकती है। उसका मध्य क्रम कमजोर है। मयंक और राहुल की सलामी जोड़ी के बाद आते हैं क्रिस गेल और फिर निकोलस पूरन। यहीं पंजाब की बल्लेबाजी खत्म हो जाती है।
कागजों पर देखा जाए तो टीम के पास मध्य क्रम में ग्लैन मैक्सवेल जैसा बड़ा नाम है, लेकिन आंकड़ों की हकीकत में मैक्सेवल की फॉर्म सिर्फ फिक्र देती है। दीपक हुड्डा को पिछले कुछ मैचों में मौका दिया गया है, लेकिन वह सफल नहीं रहे हैं। गेंदबाजी में मोहम्मद शमी और रवि बिश्नोई लगातार टीम के लिए अच्छा कर रहे हैं। पिछले मैच में क्रिस जोर्डन ने जिस तरह से आखिरी ओवरों में तीन अहम विकेट ले मैच का पासा पलटा उस लिहाज से उनकी टीम में जगह पक्की है। युवा अर्शदीप सिंह ने भी बेहद प्रभावित किया है। शमी, जोर्डन और अर्शदीप अगर लय में गेंदबाजी करते हैं तो कोलकाता के बल्लेबाजों के लिए मुश्किल होगी। स्पिन में देखना होगा कि टीम मुरुगन अश्विन को भी इस मैच में खेलाती है या नहीं। या फिर छोटा मैदान देखकर एक अतिरिक्त बल्लेबाज या एक अतिरिक्त तेज गेंदबाज को शामिल किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here