मोदी कैबिनेट का अहम फैसला, व्हाइट गुड्स विनिर्माण को प्रोत्साहन देने के लिए 6238 करोड़ रुपए की योजना को हरी झंडी

0
26

केंद्र सरकार ने देश में एयरकंडीशर एवं एलईडी लाइट सहित सभी व्हाइट गुड्स के विनिर्माण को बढ़ावा देेने के लिए 6238 करोड़ रुपए की उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की घोषणा की है जो अगले पांच वर्ष में लागू की जाएगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को यहां हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। बैठक के बाद केंद्रीय उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने संवाददाता सम्मेलन में यहां बताया कि इस योजना के तहत देश में अगले पांच वर्ष में 1.68 लाख करोड़ रुपए के व्हाइट गुड्स उत्पादों का विनिर्माण किया जाएगा।

 

इसमें से अनुमानित 64400 करोड़ रुपए का निर्यात होगा। इस योजना से 7920 करोड़ रुपए के निवेश का अनुमान है। इससे अगले पांच वर्ष में चार लाख रोजगार के अवसर पैदा होंगे और 49 हजार 300 करोड़ रुपए का प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष राजस्व का सृजन होगा। उन्होंने कहा कि यह आत्मनिर्भर भारत की दिशा में सरकार का और एक कदम है। इस योजना का मुख्य मकसद व्हाइट गुड्स क्षेत्र में कुशलता लाना तथा इसके लिए बुनियादी ढ़ांचा तैयार करना है। उन्होंने कहा कि इस योजना का लाभ केवल विनिर्माण के लिए मिलेगा और असेम्बलिंग में इसका फायदा नहीं होगा। इस योजना में नयी कंपनियां और पुरानी कंपनियों की विस्तार योजना शामिल होंगी। यह योजना किसी क्षेत्र विशेष के लिए नहीं बल्कि पूरे भारत के लिए होगी। योजना में घरेलू तथा वैश्विक कंपनियां तथा छोटे उद्योग भी शामिल हो सकते हैं। योजना का लाभ लेने के लिए कंपनियों को बीआईएस और बीईई के मानक के स्तर के उत्पादों का निर्माण करना होगा। इससे क्षेत्र में अत्याधुनिक तकनीक लाने में मदद मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here