आत्मनिर्भर भारत की दिशा में एक और बड़ा कदम, DRDO ने विकसित की स्वदेशी मिसाइल रोधी प्रौद्योगिकी

0
126

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने नौसैनिक जलपोतों को दुश्मन के मिसाइल हमले से बचाने के लिए स्वदेशी उन्नत प्रौद्योगिकी विकसित की है।

DRDO Recruitment 2019: Apply for Trade Apprenticeship at davp.nic.in; know  other details | Zee Business

उन्नत शॉफ प्रौद्योगिकी की मदद से राकेट के तीन तरह के संस्करण विकसित किये गये हैं जो छोटी दूरी, मध्यम दूदी तथा लंबी दूरी के होंगे और इन्हें नौसेना की जरूरत के अनुसार विकसित किया गया है। इस उपलब्धि को आत्मनिर्भर भारत की दिशा में एक और बड़ा कदम बताया जा रहा है।

ministry of defence: Defence minister Rajnath Singh PS gets 2 years  extension, Government News, ET Government

नौसेना ने हाल ही में राकेट के इन तीनों संस्करण का अरब सागर में परीक्षण किया था और इनके परिणाम संतोषजनक पाये गये थे। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और डीआरडीओ के अध्यक्ष डा जी सतीश रेड्डी ने वैज्ञानिकों की टीम को इस सफलता के लिए बधाई दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here