पिछले 5 सालों से पिंजरे में कैद कर रखी थी युवती, घरवाले बोले- ये उसकी सुरक्षा के लिए

0
1718

फिलीपींस में एक महिला को पिछले 5 सालों से पिंजरे में कैद करके रखा जा रहा है। वहीं परिवार ने ये दावा किया कि ये उसकी सुरक्षा के लिए है क्योंकि ये महिला गंभीर मानसिक समस्या से जूझ रही है। जानकारी के अनुसार 29 साल की बेबे फिलीपींस में अपने परिवार के साथ रह रही थी। वो एक लोकल शॉप में काम करती थी। इसके अलावा उसके प्रोफेशनल मॉडल बनने के सपने थे। हालांकि साल 2014 में पता चला कि ये महिला साइकोटिक डिप्रेशन से जूझ रही है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

 

इस कंडीशन का मतलब था कि इस महिला को हैलुसिनेशन्स (मतिभ्रम) होते थे और इसके अलावा उसका मूड काफी तेजी से बदलता था और वो काफी डिप्रेस भी रहती थी। इस महिला के हालातों को देखते हुए उसे एक अस्पताल के मानसिक केंद्र में भर्ती कराया गया था और एक साल की ट्रीटमेंट के बाद ये काफी बेहतर होने लगी थी। डॉक्टर्स भी इस महिला के हालातों को लेकर काफी सकारात्मक हो गए थे और उसे घर भी भेज दिया गया था, लेकिन साल 2015 में इस महिला के पिता की तबीयत काफी खराब होने लगी जिसके चलते इस फैमिली को आर्थिक तौर पर काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। आर्थिक परेशानियों के चलते इस महिला की दवाएं भी रुक गई और इसके घातक परिणाम सामने आने लगे। इस महिला को एक बार फिर हैलुसिनेशन्स और डिप्रेशन की परेशानी से जूझने लगी।

प्रतीकात्मक तस्वीर

 

वहीं फैमिली फ्रेंड का कहना था कि ‘कभी-कभी बेबे इतनी ज्यादा हिंसक हो जाती थी कि खुद उसकी सुरक्षा के लिए परिवार को उसे लॉक करना पड़ता था। कभी वो पड़ोसियों पर कुछ फेंक कर मार देती थी, कभी वो बाहर घूमते हुए किसी वाहन में चढ़ जाती और उसे चलाने की कोशिश करती।’ उन्होंने आगे कहा कि ‘एक बार ये महिला घर से बाहर चली गई और एक हफ्ते बाद सेबु प्रांत में पाई गई जब पुलिस ने इस महिला के परिवार से संपर्क किया था।’  इस महिला के हालातों को देखते हुए इसके परिवार ने घर के अंदर ही छोटा सा पिंजरा बना दिया है और पिछले पांच सालों से ये महिला इस पिंजरे में बंद है। हालांकि इस महिला के घरवालों ने ऐसा कदम सिर्फ इस महिला की सुरक्षा के लिए उठाया है क्योंकि ये अक्सर घर से भागने लगी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here