शाम के समय अगर करेंगे ये 6 काम तो कभी दूर नहीं होगी गरीबी

0
1934

जीवन में बहुत सी परेशानियां होने का कारण हमारी गलत आदतें होती है। इन्हीं की वजह से कई नुकसान होने लगता हैं। वास्तु और शास्त्रों के मुताबिक, ऐसे बहुत से काम हैं, जिन्हें शाम के समय में करने से बचना चाहिए। नहीं तो धन की देवी के लक्ष्मी नाराज होने से धन से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में आज हम आपको वे काम बताते हैं, जिन्हें खासतौर पर शाम के समय करने से बचना चाहिए।

1. वास्तु के अनुसार, शाम के समय बालों को खोलना, धोना और खुले छोड़ने से भी परहेज रखना चाहिए। नहीं तो परिवार के सदस्यों को परेशानी का सामना करना पड़ता हैं। सेहत से जुड़ी समस्या होने के साथ घर पर नकारात्मक माहौल बना रहता है।

2. सुबह के साथ शाम के समय भी घर- परिवार में लक्ष्मी मां की कृपा होती है। ऐसे में इस दौरान घर के दरवाजे खुले रखने चाहिए। शाम के समय घर के दरवाजे बंद होने पर धन की देवी मां लक्ष्मी नाराज हो घर से लौट जाती है। ऐसे में पैसों की किल्लत का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए रोजाना शाम के समय घर के दरवाजे खुले रखने चाहिए।

3. तुलसी के पत्तों को शाम के समय तोड़ना मना होता है। बात अगर शास्त्रों की करें तो शाम के समय तुलसी जी लीला करने को जाती हैं। ऐसे में इस समय इन्हें हाथ नहीं लगाना चाहिए। नहीं तो घर नेगेटिविटी बढ़ती है।‌‌‌‌‌ साथ ही पैसों से जुड़ी समस्याएं होने लगती है। इसलिए इस दौरान तुलसी के पौधे को हाथ लगाने या तोड़ने की जगह घी का दीपक जलाकर तुलसी माता की आरती करना शुभ होता है।

4. शाम के समय में पैसों का लेन-देन करना अशुभ माना जाता है। इससे घर में आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ता है। वास्तु के ऊ, शाम के समय में पैसों का लेन-देन करने से देवी लक्ष्मी नाराज हो जाती है। इसके साथ ही घर में पैसों का प्रवाह रूकने से कर्ज लेने की नौबत आ सकती है। ऐसे में शाम की जगह हमेशा सुबह धन का लेन- देन करना चाहिए।

5. बुजुर्ग कहते हैं कि संध्याकाल में कभी भी भोजन नहीं करना चाहिए क्योंकि इस समय भोजन करने से स्वास्थ्य खराब हो जाता है। शाम के समय भोजन करने से इसका सीधा प्रभाव मन एवं मस्तिष्क पर पड़ता है। साथ ही पाचन क्रिया पर इसका असर पड़ता है, जिससे कई रोग जन्म लेते हैं। शास्‍त्रों में भी इसको गलत माना गया है, ऐसा करने से धन का नाश होता है। अगर भूख लगी है तो आप फल ले सकते हैं।

6. वास्तु के अनुसार, शाम के समय सोना अशुभ माना जाता है। इससे घर पर दरिद्रता और बीमारी आने का खतरा रहता है। साथ ही तरक्की के रास्ते में बांधा पैदा होती है। ऐसे में इस समय  सोने की जगह भगवान जी की पूजा और आरती करनी चाहिए। बात अगर सेहत की करें तो डॉक्टरों के मुताबिक, शाम के समय सोने से अनिद्रा की बीमारी होने का खतरा रहता है। साथ ही शरीर को सही मात्रा में ऊर्जा न मिलने के कारण बीमारियों के लगने का खतरा कई गुणा बढ़ जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here