सीएम केजरीवाल ने पेश की मिसाल, टैक्सी ड्राइवर का SMS पढ़कर माफ किया रोड टैक्स पर लगा जुर्माना

0
3685

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एक टैक्सी ड्राइवर ने रोड टैक्स के सिलसिले में एसएमएस भेजा। मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक सीएम केजरीवाल ने यह एसएमएस पढ़ा और टैक्सी ड्राइवर का एसएमएस पढ़कर रोड टैक्स का जुर्माना माफ कर दिया। दिल्ली सरकार मानना है कि उसके द्वारा ऑटो-टैक्सी चालकों के लिए किए गए काम की तारीफ गोवा तक हो रही है। दिल्ली सरकार ने टैक्सी ड्राइवरों के एसएमएस का संज्ञान लेकर 24 घंटे में रोड टैक्स माफ करने की बात कही है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, अभी-अभी चार-पांच दिन पहले मेरे पास एक दिल्ली के टैक्सी ड्राइवर का एसएमएस आया। उसने लिखा कि हमें समय पर रोड टैक्स जमा कराना था। कोरोना के कारण रोड टैक्स जमा नहीं करा पाए, क्योंकि पैसे नहीं थे। अब उस पर जुर्माना लग रहा है। यह जुर्माना माफ करवा दीजिए।

मुख्यमंत्री ने कहा, हमने 24 घंटे के अंदर आदेश पास कर उनका जुर्मना माफ कर दिया। मुझे लगता है कि अपने आप में शायद यह एक अलग मिसाल होगी कि कोई टैक्सी ड्राइवर अपने राज्य के मुख्यमंत्री को एसएमएस कर सकता है। उस राज्य का मुख्यमंत्री टैक्सी ड्राइवर का एसएमएस पढ़ता है। उसके ऊपर संज्ञान लेकर 24 घंटे के अंदर पूरे राज्य के लिए आदेश भी हो जाता है। वह केवल इसीलिए, क्योंकि यह आम आदमी की सरकार है, आम लोगों की सरकार है। केजरीवाल ने कहा कि मुझे बड़ी खुशी हुई कि दिल्ली के ऑटो चालक और टैक्सी चालक को जो 5-5 हजार रुपये हमने दिए उसकी चर्चा गोवा के अंदर भी हो रही है। गोवा के टैक्सी ड्राइवर भी इस बात की चर्चा कर रहे हैं कि दिल्ली सरकार ने उनके खातों में पांच-पांच हजार रुपये डाले।

मुझसे मिलने आए गोवा के कुछ टैक्सी ड्राइवर बोले कि आज तक कोई भी सरकार नहीं आई, जो टैक्सी, ऑटो ड्राइवरों के बारे में सोचें। मैंने फिर उन्हें बिठाकर समझाया कि हमने केवल कोरोना-कोरोना में नहीं किया। हमारी सरकार जब बनी थी, तब टैक्सी-ऑटो चालकों को सरकार से 100 काम पड़ते हैं। हर काम कराने के लिए रिश्वत देनी पड़ती थी। हमने सारे नियम व कायदे कानून बदल दिए। अब अगर आपको जितने काम सरकार से कराने पड़ते हैं। अब हमारे ड्राइवरों को कोई रिश्वत नहीं देनी पड़ती। सब बदल दिया है, क्योंकि अब ईमानदार सरकार आ गई है। दिल्ली के काम की तारीफ पूरे देश में होती है। केजरीवाल ने कहा, हम आम आदमी से जुड़े हुए हैं। हमें पता है कि दिल्ली के किस तबके को, किस किस्म की कहां परेशानियां हो रही हैं। हमें जैसे ही पता चलता है कि कहीं, किसी भी जगह लोगों को परेशानी हो रही है। तुरंत आपकी सरकार आपके लिए काम करती है। आज यहां जितने लोग आए हुए हैं और सभी अभिभावकों से मैं कहना चाहूंगा कि यह वक्त बड़ा मुश्किल दौर है। खासतौर पर बच्चों के लिए तो बहुत मुश्किल है। इस दौर में बच्चे आप लोगों को अपने अपने घर में काफी परेशान भी कर रहे होंगे। बच्चों का अच्छे से ख्याल रखना। इस दौरान कोशिश करना कि अच्छे से पढ़ सकें और ऑनलाइन कक्षाएं ले सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here