पाक के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने 28 साल की उम्र में इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास, PCB पर लगाए गंभीर आरोप

0
247

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के स्टार तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया। पाकिस्तान टीम मैनेजमेंट के बर्ताव से दुखी होकर आमिर ने यह फैसला लिया है। आमिर ने पीसीबी के ऊपर मानसिक प्रताड़ना जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं। आमिर ने पाकिस्तान के जर्नलिस्ट शोएब जट्ट से बातचीत के दौरान कहा, ‘मैं क्रिकेट से दूर नहीं जा रहा हूं। मुझे नहीं लगता है कि मैं इस मैनेजमेंट के अंडर क्रिकेट खेल पाऊंगा। मुझे लगता है कि फिलहाल क्रिकेट छोड़ देना चाहिए। मुझे मानसिक रूप से टॉर्चर किया जा रहा है।’

मोहम्मद आमिर ने अपने करियर के शुरुआती सालों में बेहतरीन गेंदबाजी का प्रदर्शन किया था, लेकिन साल 2010 में स्पॉट फिक्सिंग में फंसने के बाद उन पर पांच साल का बैन लगा। इसके बाद, आमिर ने इंटरनेशनल क्रिकेट में फिर से वापसी की और पाकिस्तान की टीम को पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभाई। आमिर दुनियाभर में खेली जाने वाली टी20 लीग में भी अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रहे हैं। टेस्ट क्रिकेट से रिटायरमेंट की घोषणा की बात आमिर की काफी आलोचना हुई थी और पाकिस्तान की ओर से लिमिटेड ओवर क्रिकेट में भी उन्हें खेलने का मौका नहीं मिल रहा है, माना जा रहा है इसी वजह से आमिर ने संन्यास का फैसला लिया है।

साल 2009 में महज 17 साल की उम्र में डेब्यू करने वाले आमिर ने करियर की शानदार शुरुआत की थी। लेकिन इंग्लैंड में स्पॉट फिक्सिंग मामले में दोषी पाए जाने के बाद उनके अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने पर पांच साल का प्रतिबंध लगा था। ऐसे में उन्होंने दोबारा वापसी करते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सफलता का परचम लहराया। आमिर ने पाकिस्तान के लिए 36 टेस्ट, 61 वनडे और 50 टी20 मैच खेले और कुल 259 विकेट हासिल किए। उन्होंने टेस्ट में 119, वनडे मनें 81 और अंतरराष्ट्रीय टी20 में 59 विकेट लिए। साल 2019 में विश्व कप के बाद आमिर ने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here