पहाड़ों ने ओढ़ी बर्फ की सफेद चादर, हिमाचल में 100 सड़कें बंद (देखें तस्वीरें)

0
4105

जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर तथा उसके आसपास के इलाके में शनिवार सुबह से हिमपात हो रहा है, जिसके कारण पूरा इलाका बर्फ की सफेद चादर से ढक गया। इस इलाके में शुक्रवार काे बारिश हुई थी। छतों, पेड़ों, बिजली के खम्भों तथा खेतों के साथ-साथ सड़कें भी सफेद हो गई हैं। हिमपात रुक गया है और आसमान में आंशिक तौर पर बादल छाए हुए हैं।

इस इलाके में सुबह से लगभग दो इंच हिमपात हुआ है। अभी तक बर्फ को हटाने का काम शुरू नहीं हुआ है। ज्यादातर जलाशयों तथा सड़कों पर बर्फ पिघलने लगा है। छतों तथा पेड़ों से भी बर्फ पिघलने लगा है। विभिन्न स्थानों पर लोग, जिसमें ज्यादातर बच्चे शामिल हैं, बर्फ के साथ खेलते हुए देखे जा सकते हैं। पार्कों में काफी भीड़ है और लोग तस्वीरें खींचते नजर आ रहे हैं। कई इलाकों में लोग कल रात से ही बिजली गुल होने की शिकायत कर रहे हैं। शहर में हालांकि हिमपात के कारण यातायात प्रभावित नहीं हुआ है। मौसम विभाग ने श्रीनगर तथा अन्य मैदानी इलाकों में बारिश तथा हिमपात होने की संभावना व्यक्त की है। आज सुबह से ही हरेसा (सर्दियों के मौसम में बनने वाला विशेष खाद्य पदार्थ) की दुकानों पर लोगों की काफी भीड़ है।

उधर, हिमाचल प्रदेश में पहाड़ों ने बर्फ की सफेद चादर ओढ़ ली है। प्रसिद्ध पर्यटन स्थल मनाली, डलहौजी और शिमला के कुफरी में बर्फबारी से पर्यटन कारोबारी और सैलानी गदगद है। जिला कुल्लू और लाहौल-स्पीति में भारी बर्फबारी से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। अटल टनल के नॉर्थ पोर्टल में भारी बर्फबारी से लाहौल का संपर्क कट गया है। जनजातीय क्षत्रों में शीतलहर बढ़ गई है।  प्रशासन ने तीन दिन बाद 11 दिसंबर को ही अटल टनल को सैलानियों के लिए बहाल किया था, लेकिन अब टनल फिर से बंद हो गई है। लाहौल घाटी में करीब 100 सड़कों पर वाहनों की आवाजाही बंद हो गई है। जिला प्रशासन ने सैलानियों को बर्फीले इलाकों की ओर न जाने की हिदायत दी है। कोठी 30, खदराला 10 और पूह में 4 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई हैै।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here