झंडा कोष में दिल खोलकर योगदान दे कारपोरेट जगत: राजनाथ सिंह

0
28
 रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भूतपूर्व सैनिकों के कल्याण को राष्ट्र का सामूहिक दायित्व करार देते हुए कारपोरेट जगत से सशस्त्र झंडा दिवस कोष में खुलकर योगदान देने की अपील की है। सिंह ने आज यहां केंद्रीय सैनिक बोर्ड द्वारा आयोजित सीएसआर कॉन्क्लेव को वीडियो कांफ्रेन्स के जरिये संबोधित करते हुए कहा , ‘‘अपने राष्ट्र की सुरक्षा के प्रति हमारा उत्तरदायित्व है, जिसे निभाने के लिए हमें ‘बड़े’, और ‘खुले’ मन से आगे आना चाहिए। यह हमारा ‘नैतिक’ और ‘राष्ट्रीय’ दायित्व है। हमें यश, प्रतिष्ठा और सम्मान से ऊपर उठकर अपने देश, अपने समाज, अपने लोगों की सेवा के लिए काम करना है। ’’
उन्होंने कहा कि भारत में देश और समाज के प्रति हर क्षेत्र में समर्थ लोगों के सहयोग की बड़ी पुरानी परंपरा मिलती है। प्राचीन काल में दधीचि और कर्ण जैसी महान विभूतियों और मध्यकाल में भामाशाह और रहीम का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि ये सभी समाज और राष्ट्र की सेवा में अपने योगदान के लिए जाने जाते हैं  कोष में पिछले वर्षों में किये गये योगदान के लिए कारपोरेट जगत की सराहना करते हुए उन्होंने कहा ,‘‘ कुछ सालों से इस कोष में कई गुना की बढ़ोतरी हुई है।
आप लोगों का यह सहयोग, आपको उन स्वतंत्रता सेनानी उद्योगपतियों की कतार में लाकर खड़ा कर देता है, जिन्हें आज हम स्वतंत्रता संग्राम में उनकी सेवा, समर्पण, और सहयोग के कारण याद करते हैं। वर्ष 1962 के युद्ध में राष्ट्र के आह्वन पर इस देश की जनता ने ‘गर्म ऊन से लेकर गर्म खून’ तक का खुशी-खुशी दान कर दिया था। रूपए-पैसे, गहने की तो कोई गिनती नहीं थी। यह है राष्ट्र के प्रति हमारी भावना। ’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here