एक बार फिर फाइनल में पहुंची मुंबई इंडियंस, तो कप्तान रोहित शर्मा ने इस तरह जताई खुशी

0
9

डिफेंडिंग चैंपियन मुंबई इंडियंस ने पहले क्वालीफायर में दिल्ली कैपिटल्स को हराकर आईपीएल 2020 के फाइनल में जगह बना ली है। मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए इशान किशन (नाबाद 55) और क्विंटन डी कॉक (40) की पारियों के दम पर 5 विकेट गंवाकर 200 रन का स्कोर खड़ा किया। जवाब में दिल्ली की टीम जसप्रीत बुमराह (14 रन देकर 4 विकेट) की धारदार गेंदबाज के सामने निर्धारित 20 ओवरों में 8 विकेट के नुकसान पर 143 रनों पर बना सकी।

छठी बार फाइनल में पहुंची है मुंबई

चार बार खिताब जीत चुकी मुंबई ने छठी बार आईपीएल के फाइनल में कदम रखा है। फाइनल में पहुंचने पर कप्तान रोहित शर्मा बेहद खुश नजर आए। उन्होंने दिल्ली के विरुद्ध मिली जीत को अभी तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन करार दिया। बता दें कि सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ अंतिम लीग मैच में 10 विकेट से करारी शिकस्त के बाद रोहित ने काफी निराश थे। उन्होंने यहां तक कह दिया था कि हम इस दिन को याद नहीं रखना चाहेंगे। यह इस सत्र का सबसे खराब प्रदर्शन था।

‘हमारे दिमाग में कोई लक्ष्य नहीं था’

मैच के बाद रोहित ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह हमारी टीम का अब तक सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। हम जिस सोच के साथ मैदान पर आए वो शानदार था। पहला विकेट दूसरे ओवर में खोने के बाद क्विंटन डी कॉक और सूर्यकुमार यादव ने जिस तरह की बल्लेबाजी की, हमने जिस तरह से अंत किया और फिर बेहतरीन गेंदबाजी।’ रोहित ने कहा, ‘हमारे दिमाग में कोई लक्ष्य नहीं था क्योंकि हम अलग टीम हैं और हम अलग खेलना चाहते हैं। हम स्थिति के हिसाब से खेलना चाहते हैं।’

रोहित इस मैच में बिना खाता खोले आउट हो गए। उन्होंने इसपर कहा, ‘हम अच्छी शुरुआत करना चाहते थे। दूसरे ओवर में मेरा विकेट खोना अच्छा नहीं था, लेकिन फिर क्विंटन डिकॉक और सूर्यकुमार ने हमारी तरफ मैच को मोड़ दिया। ईशान शानदार फॉर्म में हैं, इसलिए हमने टाइमआउट के बाद उन्हें पॉजिटिव रहने के लिए कहा। यही बात हमने दूसरे टाइमआउट के बाद क्रुणाल पांड्या से कही कि सकारात्मक बल्लेबाजी करनी है और गेंदबाजों को दबाव में रखना है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here