पैसे और जेवर लेकर हुई फुर्र दुल्हन, शादी करवाने वाले को देनी पड़ी जान की कीमत

0
8

मध्य प्रदेश के इंदौर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां कुछ दिन पहले पुलिस को एक युवक की लाश मिली थी जिसे हादसा मान लिया गया था। लेकिन अब जो खुलासा हुआ है वो बेहद चौंकाने वाला है। पुलिस जांच में अब पता चला कि युवक की मौत नहीं बल्कि हत्या हुई थी और आरोपियों ने युवक को घर पर बुलाकर लाठी डंडों और लात घूंसों से जमकर पीटा था फिर अधमरी हालत में उसे मानपुर घाट के पास एक ट्रक के सामने फेंक दिया था।

पुलिस जांच में हुआ खुलासा

‘आज तक’ की खबर के मुताबिक, पुलिस जांच में पता चला है कि कुछ दिन पहले द्वारिकापुरी के रहने वाले दीपक वर्मा की लाश मानपुर घाट पर मिली थी और पुलिस को लगा कि किसी वाहन की चपेट में आने से दीपक की मौत हो गई है। अब पुलिस जांच में जब दीपक के मामा से पूछताछ की गई तो तब पता चला कि दीपक की मौत हादसा नहीं बल्कि एक सुनियोजित मर्डर था।

मृतक ने अपनी प्रेमिका की करवा दी शादी
मृतक दीपक और उसके दोस्त उन समाज के लोगों को ढूंढते थे जिनके लिए लड़कियां नहीं मिल पाती थी। इस बीच दीपक को शैलेष गोयल की भतीजे के बारे में पता चला तो उसने अपनी प्रेमिका की शादी शैलेष के भतीजे से करवा दी। कुछ दिन बाद प्रेमिका पैसे और गहने लेकर फुर्र हो गई। इसके बाद शैलेष को जब दीपक के अफेयर का पता चला तो उसने लगातार दीपक को पैसे वापस करने को कहा। इसके बाद जब दीपक नहीं माना तो फिर उसकी हत्या की साजिश रच इसे अंजाम दिया गया।

सुर्ख लाल जोड़े में उसे अपनी जीवनसंगिनी की तलाश थी, पर वो तो ‘लुटेरी’ निकलीसुर्ख लाल जोड़े में उसे अपनी जीवनसंगिनी की तलाश थी, पर वो तो ‘लुटेरी’ निकली
यूं दिया अंजाम
जांच में जो बात सामने निकलकर आई उससे पता चला कि कुछ दिन पहले तीन लोग मनीष, प्रकाश और लवीन दीपक को अफने साथ शैलेश गोयल नाम के शख्स के किराए के घर पर ले गए। गोयल के भतीजे की शादी दीपक की दोस्त से हुई थी। कहा जा रहा है कि इस शादी के लिए सभी ने लाखों रुपये लिए थे। लेकिन बाद में दुल्हन भी रुपये और गहने लेकर फरार हो गई और इसी को लेकर दीपक और गोयल में विवाद चल रहा था।

दीपक को किसी बहाने से अपने घर बुलाकर गोयल सही तीनों लोगों ने दीपक को बुरी तरह पीटा और जब वह अधमरा हो गया तो उसे मानपुर घाट में एक तेज रफ्तार ट्रक के सामने फेंक दिया। पुलिस ने बाद में जब इलाके के सीसीटीवी खंगाले तो तब पता जला। फिला तीन आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं जबकि शैलेश गोयल अभी फरार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here