Kartik Mass 2020: कार्तिक मास में इस दिशा में लगाएं तुलसी, दिन गुनी रात चौगुनी होगी तरक्की

0
11

कार्तिक का महीना शुरू हो चुका है जोकि 30 नवंबर तक रहेगा। अन्य महीनों की तुलना में कार्तिक का अपना एक अलग महत्व है। कार्तिक मास में भगवान विष्णु की पूजा के साथ-साथ तुलसी पूजा का विशेष महत्व है।

कार्तिक का महीना स्नान और दान-पुण्य के लिये विशेष महत्व रखता है। इस महीने में पूजा- पाठ और स्नान-दान करने से अक्षय फलों की प्राप्ति होती है। विष्णुधर्मसूत्र, कृत्यकल्पतरू, हेमाद्रि, पद्मपुराण, निर्णयसिन्धु और गरूड़ पुराण में बताया गया है कि कार्तिक मास में घर से बाहर किसी पवित्र नदी में स्नान, गायत्री जप एवं दिन में केवल एक बार भोजन करके व्यक्ति को शुभ फल प्राप्त होते हैं और उसकी तरक्की होती है, बता दूं कि कार्तिक मास के दौरान प्रयाग  नदी में स्नान और दर्शन विशेष लाभकारी हैं,  लेकिन अगर आप दूर किसी पवित्र नदी में स्नान करने में असमर्थ हैं तो आप घर पर ही नहाने के पानी में गंगाजल डालकर उन नदियों का भाव अपने मन में रखकर, जैसे कि आप वहीं पर स्नान कर रहे हों तो स्नान करे।

 

ऐसे करें तुलसी पूजा

आचार्य इंदु प्रकाश के अनुसार  कार्तिक मास के दौरान तुलसी जी के पौधे के चारों ओर चार केले के पत्तों से सुंदर मंडप बनाएं। तुलसी जी को लाल चुनरी चढ़ाएं | साथ ही सुहाग का सामान जैसे – चूड़ी, बिंदी, आलता, सिंदूर, बिछिया आदि चढ़ाये। फिर जल, घी का दीपक जलाएं अक्षत, रोली और द्रव्य से विष्णु जी की पूजा करें और बताशे  का भोग लगाएं। आपके दाम्पत्य जीवन में  सुख रहेगा।

 

कार्तिक मास के दौरान सुबह स्नान से निवृत्त होकर, साफ कपड़े पहनकर, तुलसी के पौधे के नीचे घी का दीपक जलाएं और ‘ऊँ नमो भगवते नारायणाय’ बोलते हुए 5 बार तुलसी के पौधे को प्रणाम करें।  ऐसा करने से आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा। साथ ही तुलसी के आस-पास के क्षेत्र को साफ-सुथरा रखें।  ऐसा करने से जीवनसाथी के साथ संबंध अच्छे बने रहेंगे और जीवनसाथी का व्यवहार आपके प्रति नरम होगा।

 

कार्तिक मास में तुलसी लगाना शुभ 

तुलसी का पौधा औषधियों गुणों से भरपूर होने के साथ-साथ वास्तु की दृष्टि से भी बहुत लाभदायक है। इसे घर में लगाने से नकारत्मकता अपने आप ही खत्म हो जाती है। वैसे भी कार्तिक का महीना शुरू हो चुका है और कार्तिक के महीने में घर में तुलसी का पौधा लगाना बहुत ही शुभ माना जाता है। इससे घर में सुख-सौभाग्य बढ़ता है और मन को खुशी मिलती है।

इस दिशा में तुलसी लगाना शुभ

वास्तु के अनुसार घर में उत्तर, पूर्व या उत्तर-पूर्व दिशा का चुनाव करना चाहिए। जबकि दक्षिण दिशा में तुलसी का पौधा कभी नहीं लगाना चाहिए। इसके अलावा घर में कभी भी तुलसी का सूखा पौधा नहीं रखना चाहिए। इसे हटाकर किसी कुएं में या किसी पवित्र स्थान पर चढ़ा देना चाहिए और नया पौधा लगाना चाहिए। अगर सिर्फ कुछ पत्तियां ही खराब हैं तो उन पत्तियों को पौधे से अलग कर दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here