गिलगित-बाल्टिस्तान को पाकिस्तान ने दिया अंतरिम राज्य का दर्जा, भारत ने कहा- जल्दी खाली करो हमारी जमीन

0
8

भारत सरकार ने पाकिस्तान को गिलगित-बाल्टिस्तान भारतीय क्षेत्र को तत्काल खाली करने को कहा है, जिसे इमरान खान सरकार ने रविवार को अपना पांचवां अंतरिम राज्य घोषित किया है। भारत ने कहा है कि गिलगित-बाल्टिस्तान समेत पूरा लद्दाख और जम्मू-कश्मीर भारत के अभिन्न अंग हैं। बता दें कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने रविवार को घोषणा की थी कि उनकी सरकार ने गिलगित-बाल्टिस्तान को ‘अंतरिम-प्रांतीय दर्जा’ देने का फैसला किया है, जो कि पूर्व राज्य जम्मू और कश्मीर के तत्कालीन रियासत का एक हिस्सा था। बता दें कि कश्मीर रियासत के इस हिस्से पर 1947 में पाकिस्तान द्वारा अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया था।

‘भारत के अभिन्न अंग हैं ये क्षेत्र’

 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, ‘भारत सरकार अवैध रूप से पाकिस्तान की ओर से भारतीय क्षेत्र के एक हिस्से में भौतिक परिवर्तन लाने के प्रयास को मजबूती से खारिज करती है।’ सरकार ने दोहराया कि केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर और लद्दाख, जिसमें तथाकथित ‘गिलगित-बाल्टिस्तान’ भी शामिल है, जो भारत का अभिन्न अंग है। श्रीवास्तव ने कहा कि पाकिस्तान सरकार के पास ‘अवैध रूप से और जबरन कब्जे वाले क्षेत्रों पर कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कड़े शब्दों में साफ किया कि इन इलाकों में किसी भी तरह का बदलाव स्वीकार नहीं किया जाएगा।

‘हमारी जमीनों को तुरंत खाली करे पाकिस्तान’
श्रीवास्तव ने कहा कि भारत सरकार इन भारतीय क्षेत्रों की स्थिति को बदलने की मांग करने के बजाय, पाकिस्तान से उसके अवैध कब्जे के तहत सभी क्षेत्रों को तुरंत खाली करने का आह्वान करती है। माना जा रहा है कि पाकिस्तान की इस हिमाकत के पीछे चीन का हाथ है। पाकिस्तान के सामने चीन की बात मानने के अलावा कोई चारा भी नहीं है क्योंकि वह ड्रैगन के भारी कर्जे के बोझ से दबा हुआ है। इमरान ने न सिर्फ गिलगित-बाल्टिस्तान को पाकिस्तान के अंतरिम राज्य का दर्जा दिया, बल्कि नवंबर में ही चुनाव कराने की भी घोषणा कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here