IPL 2020: टूर्नामेंट से बाहर हुई किंग्स इलेवन पंजाब, चेन्नई सुपरकिंग्स ने 9 विकेट से हराया

0
10

गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन और युवा ओपनर रुतुराज गायकवाड की नाबाद 62 रन की बेहतरीन पारी की बदौलत चेन्नई सुपरकिंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को रविवार को नौ विकेट से हराकर आईपीएल-13 से विजयी विदाई ली और पंजाब को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया।

पंजाब को प्लेऑफ की होड़ में बने रहने के लिए यह मैच हर हाल में जीतना था लेकिन पंजाब को निराशाजनक बल्लेबाजी का नुकसान उठाना पड़ा। पंजाब ने दीपक हुड्डा (नाबाद 62) के शानदार अर्धशतक से 20 ओवर में छह विकेट पर 153 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया लेकिन यह स्कोर ऐसा नहीं था कि चेन्नई को कोई परेशानी हो पाती। चेन्नई ने गायकवाड के नाबाद अर्धशतक से 18.5 ओवर में एक विकेट पर 154 रन बनाकर मैच जीत लिया।

 

चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इस तरह टूर्नामेंट से विजयी विदाई ली और साथ ही यह संकेत भी दे दिया कि वह अगले साल भी आईपीएल में चेन्नई के लिए खेलेंगे। चेन्नई ने प्लेऑफ की होड़ से बाहर होने के बाद लगातार तीन जीत हासिल की। चेन्नई ने इस दौरान बेंगलुरु, कोलकाता और पंजाब को हराया। चेन्नई ने टूर्नामेंट का समापन छह जीत, आठ हार और 12 अंकों के साथ किया।

दूसरी तरफ पंजाब की टीम 14 मैचों में छह जीत, आठ हार और 12 अंकों के साथ बाहर हो गयी। पंजाब ने अपने पहले सात मैचों में मात्र एक जीत हासिल की थी जबकि उसने फिर शानदार वापसी करते हुए अगले पांच मैच लगातार जीते लेकिन जब जरूरत थी तो टीम लगातार दो मैच हारकर प्लेऑफ की होड़ से बाहर हो गयी।

 

चेन्नई ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 82 रन की शानदार शुरुआत की। फाफ डू प्लेसिस 34 गेंदों में चार चौकों और दो छक्कों की मदद से 48 रन बनाकर क्रिस जॉर्डन की गेंद पर आउट हुए। चेन्नई का पहला विकेट 82 के स्कोर पर गिरा। इसके बाद गायकवाड ने अंबाटी रायुडू के साथ टीम को नौ विकेट से जीत दिला दी। गायकवाड ने 49 गेंदों पर नाबाद 62 रन में छह चौके और एक छक्का लगाया जबकि रायुडू ने 30 गेंदों पर नाबाद 30 रन में दो चौके लगाए। गायकवाड का यह लगातार तीसरा अर्धशतक था।

इससे पहले चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इस आईपीएल के अपने अंतिम मैच में टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया और उनके गेंदबाजों ने अपने कप्तान के फैसले को 17 ओवर तक सही साबित कर दिया था लेकिन हुड्डा ने उसके बाद कुछ जोरदार शॉट खेलते हुए आईपीएल का अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया और पंजाब को छह विकेट पर 113 रन की नाजुक स्थिति से उबारकर लड़ने लायक स्कोर पर पहुंचा दिया। लेकिन अंत में यह स्कोर पर्याप्त नहीं रहा। हुड्डा ने मात्र 30 गेंदों पर नाबाद 62 रन में तीन चौके और छक्के लगाए। हुड्डा का आईपीएल में यह दूसरा अर्धशतक था।

छठे नंबर के बल्लेबाज दीपक हुड्डा ने अंतिम ओवरों में कुछ शानदार शॉट लगाए। हुड्डा ने 18वें ओवर में एनगिदी की गेंदों पर दो छक्के लगाए। उन्होंने अगले ओवर में शार्दुल ठाकुर पर चौका मारा। हुड्डा ने आखिरी ओवर में एनगिदी पर चौका और छक्का मारकर पंजाब को 150 के पार पहुंचा दिया।

 

पंजाब ने 48 रन की अच्छी शुरुआत की लेकिन इसके बाद उसकी पारी लड़खड़ा गयी। मयंक अग्रवाल 15 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 26 रन बनाकर एनगिदी की गेंद पर बोल्ड हुए। पंजाब के कप्तान लोकेश राहुल को भी एनगिदी ने बोल्ड किया। राहुल ने 27 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 29 रन बनाये।

निकोलस पूरन को शार्दुल ठाकुर ने विकेटकीपर धोनी के हाथों कैच कराया। पूरन दो रन बना सके। पिछले मैच में 99 रन बनाने वाले क्रिस गेल इस बार 12 रन बनाने के बाद लेग स्पिनर इमरान ताहिर की गेंद पर पगबाधा हो गए। गेल ने डीआरएस लिया लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ।

मनदीप सिंह को लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा ने बोल्ड किया। मनदीप ने 15 गेंदों पर 14 रन बनाये। जेम्स नीशम दो रन बनाकर एनगिदी का तीसरा शिकार बने। नीशम का विकेट 113 के स्कोर पर गिरा लेकिन इसके बाद हुड्डा ने शानदार बल्लेबाजी की और अपना अर्धशतक 26 गेंदों में पूरा किया। हुड्डा के दमदार प्रहारों ने ही पंजाब के स्कोर को सम्मान दे दिया। चेन्नई की तरफ से एनगिदी ने 39 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि ठाकुर, ताहिर और जडेजा को एक-एक विकेट मिला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here