Newsmanthan Codes:-
Wednesday , 18 January 2017

दूसरी पत्नी लाने के लिए,पहली वाली को उतारा मौत के घाट

Home / STATE NEWS / Bihar / दूसरी पत्नी लाने के लिए,पहली वाली को उतारा मौत के घाट

यह घटना पटना के कटिहार, बरमसिया इलाके की है जहां एक रेलकर्मी की नवविवाहित बेटी की हत्या का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि हत्या से पहले उसे कई तरह से प्रताड़ित किया गया था। मृतका की फैमिली का आरोप है कि उसके पति के गांव के ही किसी महिला से नाजायज रिश्ते हैं। रेलकर्मी जमुना यादव की बेटी 20 साल की बेटी गीता की शादी इसी साल 28 अप्रैल को भवानीपुर के किराना दुकानदार जितेन्द्र यादव से हुई थी। गीता की मां के मुताबिक, धूमधाम से गई इस शादी में उन्होंने आठ लाख रुपए खर्च किए थे। इसके बावजूद गीता को टीवी, फ्रिज की मांग को लेकर परेशान किया जाता था।
परिजनों के मुताबिक, गीता को करंट दिया गया था। हॉस्पिटल में उसे इलेक्ट्रिक बर्न बताकर ही भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान शनिवार को गीता की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि गीता के बायें हाथ की कलाई में सुई चुभाई गई थी, जो कलाई के आरपार है। पैर में रस्सी से बांधने के निशान थे। गीता की मां सुगली देवी ने उसके पति, सास, ससुर समेत ससुराल के लोगों के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज कराया है। घटना के बाद से गीता का पति और ससुराल के लोग फरार हैं। गीता का ननिहाल भी भवानीपुर गांव में है, जिससे मायके वालों को घटना की जानकारी तुरंत मिल गई।

 
जब तक मायके वाले भवानीपुर पहुंचे, तब तक ससुरालवाले गीता को नवगछिया हॉस्पिटल ले जा चुके थे। हालत गंभीर देखकर गीता को वहां से भागलपुर मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल भेज दिया गया था, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। गीता के परिजनों का आरोप है कि जितेंद्र यादव का गांव की ही एक महिला से रिश्ते हैं। इस कारण अक्सर पति-पत्नी में झगड़ा होता था।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *