Thursday , 16 August 2018

SC ने वकीलों को लगाई फटकार, कहा- आप कोर्ट की आलोचना के लिए करते हैं टीवी डिबेट

जजों को निशाना बनाने वाले वकीलों को सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट में  जस्टिस अरुण मिश्रा ने सख्त नाराजगी जताते हुए कहा कि अफसोस है कि कोर्ट की कार्यवाही की चर्चा के लिए वकील टीवी चैनलों पर जाते हैं। जस्टिस की बेंच केरल के मेडिकल एडमिशन से जुड़े मामले पर दायर याचिका की सुनवाई कर रही थी जिस दौरान उन्होंने यह टिप्प्णी की।

जस्टिस मिश्रा ने कहा कि इस कोर्ट में कौन बचेगा, हर जज निशाने पर है। आप सभी पर हमला कर रहे हैं, आप एक तीर से सबको मारना चाहते हैं। आप जैसे लोग इस संस्थान को नष्ट कर रहे हैं। यदि ऐसा हुआ तो  आप भी नहीं बच पाओगे। जज ने सीनियर वकीलों और सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विकास सिंह की चुप्पी पर भी सवाल उठाए। विकास उस मामले से जुड़े वकीलों में शामिल हैं, जिसकी सुनवाई बेंच कर रही है।

बता दें कि छह जिला अदालतों में वकीलों की हड़ताल की वजह से न्यायिक कार्य प्रभावित होने पर सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली की तीस हजारी बार एसोसिएशन को हड़ताल करने या अदालत के किसी भी जज का बहिष्कार करने से रोक दिया। हड़ताल करने वाले वकील एक महिला वकील द्वारा कथित हमले के एक मामले में उसके पदाधिकारियों को झूठा फंसाये जाने का विरोध कर रहे थे। मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की पीठ ने पीड़ित महिला वकील को समुचित सुरक्षा प्रदान करने का पुलिस आयुक्त को निर्देश दिया। यह महिला वकील वरिष्ठ अधिवक्ता के साथ न्यायालय में पेश हुई और उसने कहा कि वह अदालत में अपना बयान दर्ज कराने को लेकर भयभीत हैं।