Monday , 6 July 2020

इमरान खान के फैसले को PAK सेना ने पलटा, कहा : करतारपुर के लिए पासपोर्ट जरूरी

पाकिस्तान में स्थित करतारपुर साहिब में कॉरिडोर के रास्ते दर्शन करने जाने वाले भारतीय तीर्थयात्रियों के लिए पासपोर्ट जरूरी होगा, गुरुवार को पाकिस्तानी सेना के आधिकारिक प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने यह बयान दिया है। पाकिस्‍तान आर्मी की तरफ से कहा गया है कि जो भी श्रद्धालु दर्शन के लिए आ रहे हैं, उनके पास पासपोर्ट होना जरूरी है। इससे पहले पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ऐलान किया था कि श्रद्धालुओं को दर्शन के लिए पासपोर्ट की जरूरत नहीं है। भारतीय एजेंसियों की तरफ से इमरान के ऐलान को एक झांसे के तौर पर देखा गया था।
इससे कुछ ही दिन पहले प्रधानमंत्री इमरान खान ने घोषणा की थी कि भारतीय श्रद्धालुओं को पवित्र गुरुद्वारा दरबार साहिब  आने के लिए महज एक वैध पहचान-पत्र की जरुरत होगी। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर की इस टिप्पणी से एक दिन पहले ही भारत ने पाकिस्तान से यह स्पष्ट करने को कहा था कि करतारपुर स्थित गलियारा जाने के लिए सिख श्रद्धालुओं को पासपोर्ट की जरुरत होगी या नहीं।
प्रधानमंत्री इमरान खान, भारतीय सिख श्रद्धालुओं को गुरुद्वारा दरबार साहिब तक बिना वीजा पहुंच देने वाले करतारपुर गलियारे का उद्घाटन शनिवार को करेंगे। यह गलियारा सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में इस हफ्ते खोला जा रहा है।