Newsmanthan Codes:-
Sunday , 26 February 2017

नोटबंदी के कारण सादगी से हुई शादी, खर्च हुए सिर्फ 1100 रुपये

Home / STATE NEWS / Bihar / नोटबंदी के कारण सादगी से हुई शादी, खर्च हुए सिर्फ 1100 रुपये

नोटबंदी के कारण बिहार के कटिहार में बेहद सादगी में शादी हुई है. शादी में सिर्फ 11 सौ रुपये खर्च हुए. कोई तामझाम नहीं. दोनों पक्षों के लोग इस सामान्य से समारोह में शामिल हुए और लड़की को शादी कर ले गए. महिलाओं और पुरुषों की सामान्य भीड़. कोई सजावट नहीं. न ही लड़का सजा है न लड़की. ढोल नगाड़ों का भी शोर नहीं, लेकिन बिहार के कटिहार के एक गांव में शादी हो गई और पता भी नहीं चसा. शादी हुई भी तो ऐसी जो इस वक्त देश के सामने एक मिसाल छोड़ रही है.

 

दरअसल जब से नोटबंदी लागू हुई लोगों की शादियां फंस गई. शादियों में होने वाले खर्च को लेकर परिवार वाले परेशान रहने लगे. चितौरिया गरीघाट के रहने वाले योगेन्द्र सहनी ने अपनी बेटी की शादी अपने ही गांव के राजा कुमार से तय की थी. लेकिन नोटबंदी के चक्कर में शादी फंस गई. परेशान पिता ने लड़के के परिवारवालों को परेशानी बताई. लड़के के परिवार ने परेशानी समझी और सादगी से शादी करने पर रजामंदी दे दी.

 

लड़के वालों की तरफ से ग्रीनसिग्नल मिलते ही शादी की तैयारी शुरू हुई. ग्यारह लोगों की बारात लड़की के घर पहुंची. कुछ ही मिनटों में शादी हो गई. शादी के बाद लड़की वालों ने बारात को चाय पिलायी और खुशियों में लड्डू खिलाये. बाराती भी चाय और लड्डू खाकर खुश दिखे.

bihar 2

शादी का खर्च महज 1100 रुपये था. जिसमें 350 रुपये की साड़ी. लड़के के लिये 400 रूपये के कपड़े, बारात का मुंह मीठा कराने के लिये 150 रूपये के लड्डू और सौ रूपये की चाय. इसके अलावा वर-वधू के पहनने के लिए फूलों की माला का इंतजाम. शादी के एवज में दहेज की मांग करने वाले और शादी पर लाखों-करोड़ों पानी की तरह बहाने वाले समाज के लिए बिहार के कटिहार की ये शादी एक मिसाल छोड़ गई है.

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *