Thursday , 25 October 2018

मुस्लिम समाज ने पेश की एकता की मिसाल, होली पर्व पर बदल दिया नमाज का समय

मंथन न्यूज़ नेटवर्क :  धर्म और जाति के बंधनों को पीछे छोड़ते हुए मुस्लिम समाज मिसाल पेश किया है. होली पर्व को देखते हुए लखनऊ के मुस्लिम समाज ने नमाज अदा करने का वक्त बदल दिया है. दरअसल, इस साल होली और जुम्मा एक ही दिन पड़ रहे हैं, ऐसे में असामाजिक तत्वों द्वारा रंगोत्सव में खलल पड़ने की आशंका के चलते यहां के मुस्लिम संगठनों ने यह फैसला लिया है. तहजीब का शहर माने जाने वाले लखनऊ में अमन-शांति बनाए रखने के लिए नमाज का समय एक बजे के बाद रखने की अपील की गई है.

आपको बता दें कि इस बार होली शुक्रवार को खेली जाएगी. इसी दिन शहर की मस्जिदों में जुमे की नमाज में भी काफी बड़ी संख्या में नमाजी शामिल होते हैं. ऐस में किसी नमाजी पर रंग न पड़े और असामाजिक तत्व इसका फायदा न उठा सकें, इसलिए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के चेयरमैन व ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली और इमामे जुमा मौलना कल्बे जवाद ने जुमे की नमाज का वक्त एक बजे के बाद कर दिया है.

उन्होंने कहा कि इस बार होली दो मार्च को खेली जाएगी. इसी दिन जुमा भी है. पूरे देश में मुसलमान मस्जिदों में जुमे की नमाज अदा करने पहुंचते हैं. एक ही समय में दोनों चीजे होंगी. इसलिए हिंदू भाइयों के त्यौहार का मुसलमान ख्याल करें. मौलाना ने अन्य संगठनों से भी ऐसा ही करने की अपील की है. उन्होंने कहा कि जो मस्जिदें मिली-जुली आबादी में हैं और नमाज का समय 12:30 से 1:00 के बीच है, वहां वक्त आधा घंटा बढ़ा लें. इससे होली खेलने वालों और नमाज अदा करने वालों को आसानी रहेगी.