Saturday , 22 December 2018

अफगानिस्तान का सबसे भरोसेमंद क्षेत्रीय साझेदार है भारत: पेंटागन

मंथन न्यूज़ नेटवर्क : पेंटागन ने युद्धप्रभावित अफगानिस्तान के शांतिपूर्ण विकास में भारत के योगदान की प्रशंसा करते हुए कहा है कि भारत अफगानिस्तान का सबसे भरोसेमंद क्षेत्रीय साझेदार है। पेंटागन ने अमेरिकी कांग्रेस में पेश जून से नवंबर तक की अर्द्धवार्षिक अफगान रिपोर्ट में कहा कि भारत ने अमेरिका की नयी दक्षिण एशिया नीति आने के बाद अफगानिस्तान में अपनी आर्थिक भागीदारी बढ़ायी है।

पेंटागन ने रिपोर्ट में कहा है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अगस्त 2017 में दक्षिण एशिया रणनीति की घोषणा की थी। इस नीति में पाकिस्तान पर इस बात के लिए दबाव बनाने पर जोर दिया गया है कि वह छद्म आतंकवादी और आतंकवादी समूहों के लिए समर्थन और सुरक्षित पनाहगाह मुहैया कराने पर रोक लगाये और अफगान सुलह समझौते में एक रचनात्मक भूमिका निभाये।

रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि अमेरिकी रणनीति में दक्षिण एशिया में स्थिरता बढ़ाने के लिए एक क्षेत्रीय रूख का आह्वान किया गया है। इसमें एक स्थिर अफगानिस्तान के लिए आमसहमति बनाना, क्षेत्रीय आर्थिक एकीकरण और सहयोग पर जोर देना, अफगान नीत शांति प्रक्रिया के लिए सहयोग पर जोर देना तथा देशों को छद्म ताकतों के इस्तेमाल के लिए जवाबदेह बनाना जिससे स्थिरता और क्षेत्रीय भरोसा कमजोर होता है।
पेंटागन ने कहा, ‘‘भारत अफगानिस्तान का सबसे भरोसेमंद क्षेत्रीय साझेदार और क्षेत्र में विकास में सहायता देने वाला सबसे बड़ा सहयोगकर्ता है।’’। भारत ने 2015 के अंत से विकास में सहायता के तौर पर एक अरब डालर का वादा किया है। इसके अलावा भारत अफगान के आधारभूत ढांचे पर दो अरब डालर पहले ही खर्च कर चुका है।