Friday , 12 January 2018

असहाय न्यायपालिका कैसे करेगी भारतीय लोकतंत्र की रक्षा ?

मंथन न्यूज़ नेटवर्क : उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के प्रबुद्ध नेता अब्बास अली जैदी ( रुश्दी मियां ) ने उच्चतम न्यायलय के 4 वरिष्ठ न्यायधीशों द्वारा प्रेस कांफ्रेस करके न्याय के सर्वोच्च मंदिर की कार्य प्रणाली पर लगाए गए आरोपों पर अपनी चिंता जाहिर की है. जैदी का कहना है

कि न्यायपालिका के कारण ही आज तक हर एक नागरिक का विश्वास भारतीय लोकतंत्र और शासन प्रणाली में कायम है लेकिन यदि ऐसे ही न्यायपालिका की  विश्वसनीयता पर भी सवाल उठते रहेंगे तो आमजन के विश्वास का क्या होगा ? संविधान निर्माताओं ने सर्वोच्च न्यायलय को संविधान का संरक्षक बनाया था लेकिन जब न्यायलय अपनी ही रक्षा नहीं कर पायेगा तो आखिर वो संविधान की रक्षा कैसे करेगा ? आज जो भी सवाल भारतीय न्यायपालिका की खामियों पर उठे हैं उनको दूर करना अति आवश्यक है नहीं तो वो दिन दूर नहीं होगा जब विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र का नामोनिशां मिट जायेगा.