Saturday , 20 October 2018

भराड़ीसैंण विधानसभा में पहली बार फहरा तिरंगा

मंथन न्यूज़ नेटवर्क : 69वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने विधानसभा भराड़ीसैंण में प्रथम बार ध्वजारोहण किया. इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने गैरसैंण और प्रदेशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दीं.

विधानसभा अध्यक्ष ने सर्वप्रथम भारत भूमि की आन-बान और शान के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों को उत्तराखंड राज्य के आंदोलनकारी शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की. इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को भी याद किया.

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा, “मुझे आज बहुत खुशी हो रही है कि मैं भराड़ीसैंण में ध्वजारोहण कर रहा हूं. विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि गैरसैंण में स्थापित हो रहे विधानसभा परिसर में एक अंतर्राष्ट्रीय संसदीय शोध अध्ययन एवं प्रशिक्षण संस्थान की स्थापना करने जा रहे हैं. इसका संचालन यहां सत्र से इतर अवधि में किया जाएगा तथा देश विदेश से प्रशिक्षु एवं शोध के विद्यार्थी यहां आकर संसदीय विदाई एवं संविधानिक विषयों पर अध्ययन-मनन करेंगे. इससे गैरसैंण में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और अर्थव्यवस्था मजबूत होगी.”

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि पहाड़ों में पलायन को रोकने के लिए सरकार ने पलायन आयोग की स्थापना की है और गांव की ओर विकास ले जाने के लिए कई कार्यक्रम चल रहे हैं. इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने आह्वान किया कि हम सब अपने प्रयासों से एक समृद्ध पर्वतीय राज्य की संकल्पना को साकार करें.

गणतंत्र दिवस के अवसर पर गैरसैंण के स्कूली बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए इन कार्यक्रमों को देखकर विधानसभा अध्यक्ष ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों में प्रतिभाग करने वाले प्रत्येक बच्चे को विधानसभा अध्यक्ष विवेकाधीन कोष से पांच पांच सौ रुपये देने की घोषणा की साथी इस अवसर पर पहुंचे अन्य स्कूली बच्चों को मिष्ठान हेतु दो 200 रुपये देने की घोषणा भी की.

इस अवसर पर स्थानीय विधायक सुरेंद्र सिंह नेगी ,भाजपा जिलाध्यक्ष थपलियाल, विधानसभा सचिव जगदीश चंद्र एवं विधानसभा के अन्य अधिकारीगण कर्मचारीगण के साथ साथ भारी मात्रा में क्षेत्रीय जनता भी उपस्थित थी.