Monday , 24 June 2019

2022 विश्वकप में 32 टीमों का ही होगा प्रारूप : फीफा

अंतरराष्ट्रीय फुटबाल महासंघ (फीफा) ने कतर में वर्ष 2022 में होने वाले विश्वकप में 48 टीमों के नये प्रारूप में उतरने की संभावनाओं पर विराम लगाते हुये स्पष्ट कर दिया है कि यह फीफा टूर्नामेंट अपने पुराने 32 टीमों के स्वरूप में ही खेला जाएगा। फीफा परिषद की 10 जनवरी 2017 को हुयी बैठक में सर्वसम्मति से फैसला लिया गया था कि 2026 के संस्करण को 48 टीमों के साथ खेला जाएगा जो अमेरिका, कनाडा और मैक्सिको की संयुक्त मेजबानी में होना है। हालांकि कतर फीफा विश्वकप में 48 टीमों के साथ उतरने के लिये गहन समीक्षा के बाद यह फैसला लिया गया है कि मौजूदा परिस्थितियों में यह संभव नहीं है। फीफा ने कहा कि मियामी में मार्च में हुयी बैठक में यह समीक्षा की गयी थी कि टीमों की संख्या को विश्वकप के आगामी संस्करणों में बढ़ाया जा सकता है, लेकिन इसके लिये जरूरी है कि मुख्य मेजबान देश के साथ बाकी पड़ोसी देश भी इसमें मदद करें। फीफा ने जारी बयान में कहा,‘‘फीफा परिषद ने आखिरी बैठक में इस बात पर सहमति जतायी थी कि आगामी संस्करणों में विश्वकप में टीमों की संख्या को बढ़ाया जाना चाहिये लेकिन मौजूदा परिस्थितियों में 48 टीमों के साथ उतरना संभव दिखाई नहीं दे रहा है।’’ वैश्विक संस्था ने कहा,‘‘सभी पक्षों से सलाह मशविरा करने के बाद यह फैसला किया गया है कि कतर विश्वकप में 32 टीमों के पुराने फार्मेट में ही टूर्नामेंट आयोजित किया जाएगा।’’ उन्होंने साथ ही कहा कि फीफा और कतर ने मिलकर कम संसाधनों में भी विश्वकप 48 टीमों के साथ आयोजित करने की संभावनाओं की भी समीक्षा की थी। लेकिन अब फैसला किया गया है कि आगे इस पर विचार नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा,‘‘ कतर में होने वाला 2022 फीफा विश्वकप अब 32 टीमों के नियमित प्रारूप में ही कराया जाएगा और 5 जून को फीफा कांग्रेस में इसमें किसी बदलाव के संबंध में कोई अन्य प्रस्ताव नहीं दिया जाएगा।’’ फीफा कांग्रेस पेरिस में 7 जून से 7 जुलाई तक आयोजित होगा जो महिला विश्वकप से पहले है।