Newsmanthan Codes:-
Sunday , 26 February 2017

प्रवासी भारतीय सम्मेलन: पीएम बोले- हम पासपोर्ट का रंग नहीं, खून का रिश्ता देखते हैं

Home / Prime News / प्रवासी भारतीय सम्मेलन: पीएम बोले- हम पासपोर्ट का रंग नहीं, खून का रिश्ता देखते हैं

बेंगलुरु में चल रहे 14वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘दुर्भाग्यपूर्ण है कि कालेधन के कुछ राजनीतिक पुजारी हमारे प्रयासों को जनविरोधी कह रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि विदेशों में रह रहे तीन करोड़ से अधिक प्रवासी भारतीयों की सुरक्षा बहुत महत्वपूर्ण है और हम उनकी सुरक्षा का पूरा ख्याल रखेंगे और उन्हें हर तरह की सहायता और सहयोग देंगे। हम पासपोर्ट का कलर नहीं देखते हैं, खून का रिश्ता देखते हैं। उन्होंने कहा कि प्रवासी भारतीय देश की विकास यात्रा में सहयात्री हैं। प्रवासी भारतीय जहां भी रहते हैं, उसे ही कर्मभूमि मानते हैं और वहां विकास के काम में योगदान देते हैं। प्रवासी भारतीयों ने देश की अर्थव्यवस्था में अमूल्य योगदान दिया है। हम प्रतिभा पलायन को प्रतिभा वापसी में बदलना चाहते हैं। प्रवासी भारतीयों पर हर किसी को फक्र है. वे जहां भी गए, अपनी मेहनत और काबिलियत से अलग पहचान बनाई.उन्होंने कहा, प्रवासियों ने भारतीय अर्थव्यवस्था में 69 अरब डॉलर का योगदान दिया है। ये सर्वश्रेष्ठ भारतीय प्रकृति, संस्कृति और मूल्यों का प्रतिनिधित्व करते हैं। हम जल्द प्रवासी कौशल विकास योजना शुरू करेंगे। यह योजना उन भारतीय युवाओं के लिए होगी जो विदेशों में काम करना चाहते हैं।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *