Saturday , 24 August 2019

PM पद के लिए कांग्रेस को समर्थन देंगे पर अपना वोट हमें ही दें : केजरीवाल

मंथन न्यूज़ नेटवर्क : मस्जिदों के इमामों की एक सभा में भाग लेते हुए, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को दिल्ली में आगामी लोकसभा चुनावों में वोटों के विभाजन को लेकर आगाह किया और दावा किया कि कांग्रेस राष्ट्रीय राजधानी में एक भी सीट नहीं जीतेगी। दिल्ली वक्फ बोर्ड द्वारा आयोजित कार्यक्रम में, बोर्ड के अध्यक्ष और आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक अमानतुल्ला खान ने कहा कि बोर्ड के अंतर्गत आने वाले 200 मस्जिदों के इमामों और मुअज्जिनों (मस्जिद के कर्मचारी जो अजान देते हैं) के वेतन में बढ़ोतरी फरवरी से लागू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि शहर की 1,500 अन्य मस्जिदों के इमामों और मुअज्जिनों का वेतन भी बढ़ाया जाएगा। उन्होंने सभी इमामों से आप को समर्थन करने की अपील की।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने सभा को वोटों के बंटवारे से सावधान रहने की अपील करते हुए, कहा कि इससे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को दिल्ली की सभी सात सीटें जीतने में मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘अगर आपके वोट विभाजित होते हैं, तो देश को भारी नुकसान होगा।’’ केजरीवाल ने कहा कि आप लोकसभा चुनाव में सभी सात सीटों पर जीत हासिल करेगी।

दूसरी ओर, अमानतुल्ला खान ने आगामी लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी कांग्रेसी होने पर उसका समर्थन करने की बात कह कर बुधवार को नये राजनीतिक समीकरण बनने के संकेत दिए हैं। खान ने यह बात आप प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की उपस्थिति में कही। उन्होंने कहा, ‘‘लोग कह रहे हैं कि वह कांग्रेस को वोट देंगे क्योंकि अगला प्रधानमंत्री उसी पार्टी से होगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर ऐसा है तो, हम कांग्रेस का समर्थन करेंगे। लेकिन दिल्ली में सिर्फ आप ही भाजपा को हरा सकती है, कांग्रेस नहीं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अपना वोट बर्बाद ना करें। यदि कांग्रेस को वोट दिया तो वह बर्बाद ही होंगे। यदि आप भाजपा को हराना चाहते हैं तो आप को वोट दें।’’