Saturday , 23 November 2019

अमित शाह का तीन दिवसीय दौरा शुरू, केरल में हुआ स्वागत

मंथन न्यूज़ नेटवर्क : भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने आज से अपने तीन दिन के दौरे की शुरुआत कर दी है। आज वह केरल पहुंच गए हैं। अमित शाह का स्वागत करने के लिए बड़ी संख्या में बीजेपी और एनडीए की सहयोगी पार्टियों के कार्यकर्ता पहुंचे। बीजेपी की सहयोगी जेएसएस ने अमित शाह के स्वागत के लिए बैनर छपवाए। इन बैनरों पर रेड सैल्यूट लिखा गया है। बता दें कि जेएसएस वामपंथी धड़े से निकली पार्टी है। बीजेपी अध्यक्ष की कोशिश है कि वह बीते दिनों एक बछड़े को सार्वजनिक रूप से काटे जाने का मुद्दा उठाकर अपनी पार्टी के जनाधार को राज्य में मजबूत करें। ईसाइयों के एक तबके को आकर्षित करने के अपने प्रयासों के तहत वह इस यात्रा के दौरान बिशपों से भी मुलाकात करेंगे। शाह शुक्रवार को कोच्चि में बिशपों से मिलेंगे और अल्पसंख्यक समुदाय के साथ संपर्क के लिए पार्टी के प्रयासों को रेखांकित करेंगे। केरल में इस समुदाय के 18.20 प्रतिशत मतदाता हैं।

गौरतलब है कि इनमें कई ऐसे राज्य हैं जहां गोहत्या पर पाबंदी नहीं है और गोमांस लोगों के आहार का हिस्सा है. हालांकि बीजेपी नेताओं का मानना है कि जिस तरह से युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केरल में चौराहे पर बछड़े की हत्या की उससे हिंदी भाषी राज्यों में कांग्रेस को नुकसान हो सकता है. बीजेपी इसे बड़ा मुद्दा बनाने की तैयारी में है. इस साल गुजरात और हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं. यही वजह है कि गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने इस घटना पर तुरंत ही प्रतिक्रिया दे दी. लेकिन यह भी सही है कि गैर हिंदी राज्‍यों ऐसे राज्‍यों में जहां बीजेपी अपनी उपस्थिति बढ़ाना चाहती है वहां मवेशियों के कारोबार से संबंधित अधिसूचना के बाद अमित शाह को अब ज्‍यादा मेहनत करनी पड़ेगी.