Saturday , 9 December 2017

2016 के अंत तक 1oo स्टेशनों पर फ्री वाई-फाई देगा सुविधा

प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी गूगल अगले साल तक देश के 100 रेलवे स्टेशनों पर इंटरनेट संपर्क सुगम बनाने के लिए वाई-फाई की व्यवस्था चालू कर देगी। यह बात बुधवार को कंपनी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुंदर पिचई ने कही।
अमेरिका की यह कंपनी भारत में सब तक इंटरनेट सुविधा पहुंचाने के प्रयासों पर ध्यान दे रही है और यह परियोजना उसी का हिस्सा है। इसे रेलवे के उपक्रम रेलटेल के साथ मिल कर लागू किया जा रहा है। पिचई ने ‘गूगल फॉर इंडिया’ समारोह में कहा कि दिसंबर 2016 तक 100 स्टेशनों में वाई-फाई की सुविधा होगी। मुंबई सेंट्रल स्टेशन पर वाई-फाई की सुविधा आगामी जनवरी से चालू हो जाएगी। यह रेलवे मंत्रलय के उपक्रम रेलटेल के साथ भागीदारी में किया जा रहा है। वहीं पिचाई ने कहा देश के 3000 गांवों को इंटरनेट से जोड़ने की योजना है। भारतीय रेल की दूरसंचार इकाई, रेलटेल ने गूगल इंडिया की अनुषंगी इकाई के साथ समझौता किया है, जिसके तहत देश भर के 400 स्टेशन में वाई-फाई की व्यवस्था की जाएगी। सुंदर पिचाई ने बताया कि मुंबई सेंट्रल पहला स्टेशन होगा जहां जनवरी 2016 में वाई-फाई शुरू कर दिया जाएगा सुंदर पिचाई ने युवाओं के लिए अच्छी खबर सुनाते हुए कहा कि गूगल बेंगलुरु और हैदराबाद से हायरिंग करेगा। गूगल हैदराबाद में एक नया कैंपस बनाने जा रहा है। दो मिलियन से ज्यादा एंड्रॉयड फोन निर्माताओं को प्रशिक्षित करने के लिए गूगल एनएसडीसी के साथ मिलकर हैदराबाद में एक नया ट्रेनिंग प्रोगाम लॉन्च करने जा रहा है।
बायसिकल फॉर वीमेन होगा शुरू
पिचाई ने कहा कि 4 अरब लोग आज भी इंटरनेट से कनेक्ट नहीं, पर फिर भी 2 अरब लोगों की पहुंच इंटरनेट तक है ये सचमुच अविश्वसनीय है। इसके अलावा  गूगल ज्यादा से ज्यादा भारतीय महिलाओं को ऑनलाईन लाने दिशा में भी काम करेगा। गूगल के बायसिकल फॉर वीमेन को राष्ट्रीय प्रोग्राम बनाते हुए महिलाओं को इंटरनेट से जोड़ेंगे।
ट्रांसलेशन होगा आसान
इसके अलावा गूगल अगले साल टेप टू ट्रांसलेट की सुविधा भी लॉन्च करने जा रहा है। जिसके माध्यम से किसी भी लिखित भाषा का बड़ी आसानी से टेप करके हिंदी या अन्य भाषा में अनुवाद किया जा सकेगा।