Wednesday , 26 April 2017

भारत का पांचवां दिशासूचक उपग्रह सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित

आंध्र प्रदेश के सतीश धवन स्पेस सेंटर से बुधवार सुबह 9 बजकर 31 मिनट पर ‘IRNSS-1E’ नेविगेशन सैटेलाइट लॉन्च किया गया। यह सीरीज का पांचवां सैटेलाइट है। दो और सैटेलाइट की लॉन्चिंग के बाद भारत का अपना जीपीएस शुरू हो सकेगा। भारत ने यह प्रक्षेपण अपने विश्वसनीय पीएसएलवी-सी31 के माध्यम से किया. ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) सी31 ने अपने सफर का आगाज बिल्कुल सटीक तरह से करते हुए सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से सुबह नौ बजकर 31 मिनट पर उडान भरी और फिर 19 मिनट 20 सेकेंड के बाद इसने उपग्रह को कक्षा में डाल दिया. यह अंतरिक्ष केंद्र चेन्नई से लगभग 110 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने इस प्रक्षेपण के लिए इसरो टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा, ‘‘इसरो टीम को इस सफल प्रक्षेपण पर हार्दिक बधाई।

’’प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों के ‘‘उत्साह और दृढ़ संकल्प’’ की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने देश को गौरवांवित किया है। वहीं, मोदी ने टि्वटर पर कहा, ‘‘पीएसएलवी सी31 के सफल प्रक्षेपण और आईआरएनएसएस-1ई को सटीकता के साथ कक्षा में स्थापित किए जाने के अवसर पर इसरो और हमारे वैज्ञानिकों को उनके उत्साह और दृढ़ संकल्प के लिए बधाई। इसरो के वैज्ञानिकों से बात की और उनकी आज की उपलब्धि पर उन्हें बधाई दी। हमारे वैज्ञानिक हमें गौरवांवित महसूस करवाते रहते हैं।’’

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This part can be inserted into the end of the html document in order to avoid delays during the loading of the main content of your site