Saturday , 25 July 2020

कोरोना संकट के बीच संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भारत और चीन से की अपील

संयुक्‍त राष्‍ट्र संघ के महासचिव महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने भारत-चीन से अपील की है कि दोनों देश सीमा पर तनाव बढ़ाने वाले कदमों से बचें। और भारत और चीन के बीच गहराते सीमा विवाद को खत्‍म करने के लिए सभी पक्षों से तनाव पैदा कर सकने वाले कदमों से बचने की गुजारिश की है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने उक्‍त जानकारी देते हुए कहा कि हम हालात पर नजर रख रहे हैं।
हम सभी संबंधित पक्षों से गुजारिश करते हैं कि वे तनाव बढ़ाने वाले कदम उठाने से बचेंगे। भारत और चीन के बीच गहराते सीमा विवाद को खत्‍म करने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मध्यस्थता की पेशकश पर प्रवक्ता ने कहा कि यह विचार करना हमारा काम नहीं है कि किसे मध्यस्थता करनी चाहिए हम तो केवल तनाव नहीं बढ़ाने की अपील कर रहे हैं। मालूम हो कि ट्रंप ने इस मसले पर मध्यस्थता की पेशकश करते हुए कहा है कि वह दोनों देशों की सेनाओं के बीच जारी गतिरोध कम करने के लिए भूमिका निभाने को तैयार हैं।
उल्‍लेखनीय है कि एलएसी पर में भारत और चीन की सेनाओं के बीच सैन्य टकराव बढ़ गया है। चीन के सैनिक भारतीय इलाके में घुस आए हैं, इसके बाद भारत ने भी अपने सैनिकों की संख्‍या बढ़ा दी है। भारत ने कहा है कि चीनी सेना लद्दाख और सिक्किम में एलएसी पर उसके सैनिकों की सामान्य गश्त में अवरोध पैदा कर रही है। भारत ने चीन की उस दलील को पूरी तरह खारिज कर दिया है कि भारतीय बलों क्षेत्र में अतिक्रमण किया है।
भारतीय विदेश मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि भारत की सभी गतिविधियां सीमा के भीतर की गई हैं। भारत ने सीमा मामले में हमेशा जिम्मेदार रुख अपनाया है। भारत अपनी संप्रभुता और सुरक्षा के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने पिछले हफ्ते कहा था कि भारतीय सैनिक भारत-चीन सीमावर्ती क्षेत्रों में वास्तविक नियंत्रण रेखा से पूरी तरह अवगत हैं और इसका निष्ठापूर्वक पालन करते हैं।