Monday , 25 November 2019

केंद्र और राज्यों के बीच बेहतर तालमेल के लिए महत्वपूर्ण कड़ी हैं राज्यपाल: राष्ट्रपति

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को कहा कि केंद्र और राज्यों के बीच बेहतर तालमेल सुनिश्चित करने के लिए राज्यपाल और उप राज्यपाल “सर्वाधिक महत्वपूर्ण कड़ी” हैं। राज्यपालों और उप राज्यपालों के 50वें सम्मेलन के समापन संबोधन में राष्ट्रपति ने उनसे कहा कि राज भवनों को लोगों के अनुकूल बनाया जाए।

राष्ट्पति ने कहा कि मंगलवार को देश संविधान की 70वीं वर्षगांठ मनाएगा। उन्होंने कहा, “इस दिन मूल कर्तव्यों के बारे में जागरुक करने के लिए नागरिकों के बीच एक अभियान की शुरुआत की जाएगी।” उन्होंने उम्मीद जताई की सभी राज भवन संविधान दिवस का उत्सव प्रभावी तरीके से मनाएंगे और मूल कर्तव्यों के बारे में जागरुक करने में राज्यपाल महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कोविंद के हवाले से कहा गया, “हमारे संघीय ढांचे में राज्यपाल का पद सर्वाधिक महत्वपूर्ण कड़ी है। केंद्र और राज्यों के बीच बेहतर समन्वय सुनिश्चित करने में राज्यपाल की महत्वपूर्ण भूमिका है।” राष्ट्पति ने यह सुझाव भी दिया कि राजभ‍वनों को बेहतर बनाया जाए और आम लोग वहां आसानी से पहुंच सकें।

उन्होंने कहा कि राज्यपाल के पद के बारे में आम लोग मानते हैं कि ये एक ऐसी औपनिवेशक विरासत है, जो उनके लिए उपलब्ध नहीं है। उन्होंने कहा कि इस धारणा को बदलने के लिए लगातार प्रयास करें। सम्मेलन में आदिवासी कल्याण और जल, कृषि, उच्च शिक्षा और सुगम जीवन से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की गई।