Saturday , 28 March 2020

केंद्रीय कैबिनेट ने यस बैंक की रिकंस्ट्रक्शन स्कीम को दी मंजूरी

देश के पांचवे सबसे बड़े प्राइवेट बैंक के ग्राहकों के लिए बहुत जल्द अच्छी खबर आने जा रही है. अगले हफ्ते तक यस बैंक के ग्राहकों के लिए नगद निकासी पर जो रोक लगी हुई है वह हट जाने की उम्मीद है. सूत्रों का कहना है कि अगले सप्ताह तक यस बैंक ग्राहकों की नगद निकासी पर 50 हजार रुपये प्रति ग्राहक की जो रोक है वह हट जाएगी. इसके बाद ग्राहक अपनी जरूरत के मुताबिक यस बैंक में जमा अपना पैसा निकाल सकेंगे. आज केंद्रीय कैबिनेट ने यस बैंक की रिकंस्ट्रक्शन स्कीम को मंजूरी दे दी है. इस स्कीम के तहत यस बैंक में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 49 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदने जा रहा है.

केंद्रीय कैबिनेट के यस बैंक की रिकंस्ट्रक्शन स्कीम को मंजूरी देने की जानकारी देते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि रिकंस्ट्रक्शन स्कीम का नोटिफिकेशन जारी होने के बाद तीन कामकाजी दिवस के बाद यस बैंक के ग्राहकों पर 50 हजार रुपये प्रति ग्राहक की जो निकासी की लिमिट लगाई गई है वह हटा ली जाएगी. वहीं सूत्रों का कहना है कि नोटिफिकेशन बहुत जल्द जारी हो जाएगा और अगले सप्ताह तक यस बैंक ग्राहकों पर जो नगद निकासी की रोक है वह हटा ली जाएगी.

यस बैंक की रिकंस्ट्रक्शन स्कीम में देश का सबसे बड़ा सार्वजनिक बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 49 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदने जा रहा है. इसके अलावा बैंक में अन्य कंपनियां भी निवेश करने जा रही हैं. इस स्कीम के तहत स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के लिए 3 साल का लॉक इन पीरियड होगा जिसके तहत एसबीआई 3 साल तक अपनी हिस्सेदारी को 26 फ़ीसदी से कम नहीं कर पाएगा. वही जो अन्य निवेशक यस बैंक में निवेश करेंगे वह अपने निवेश का अगले 3 साल तक 25 फ़ीसदी से ज्यादा हिस्सा कम नहीं कर पाएंगे. यानी के एसबीआई के अलावा अन्य निदेशकों को अपने कुल निवेश का 75 फ़ीसदी हिस्सा 3 साल तक यस बैंक में रखना अनिवार्य होगा. यस बैंक की रिकंस्ट्रक्शन स्कीम के तहत स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 725 करोड़ शेयर 10 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से खरीदेगा. यानी के एसबीआई का निवेश 7250 करोड़ रुपये का होगा. वहीं दूसरी तरफ निजी बैंक आईसीआईसीआई के बोर्ड ने भी यस बैंक में 1000 करोड़ रुपये की निवेश को मंजूरी दे दी है. आईसीआईसीआई बैंक यस बैंक में 100 करोड़ शेयर 10 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से खरीदेगा.

7 दिन में होगा यस बैंक के बोर्ड का पुनर्गठन
यस बैंक रिकंस्ट्रक्शन स्कीम के बारे में जानकारी देते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि नोटिफिकेशन जारी होने के बाद सात कामकाजी दिवस के दौरान यस बैंक के बोर्ड का पुनर्गठन हो जाएगा. इस बोर्ड में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से 2 लोग शामिल होंगे. वहीं यस बैंक के ग्राहकों पर लगा मोरटोरियम पीरियड नोटिफिकेशन के बाद तीन कामकाजी दिवस में हटा लिया जाएगा. इस बारे में सूत्रों ने बताया कि अगले सप्ताह तक यस बैंक के ग्राहकों पर लगा मोरटोरियम पीरियड हट जाएगा. यानी अगले सप्ताह से यस बैंक के ग्राहकों के लिए अच्छी खबर है. वह अब 50 हजार रुपये से ज्यादा की जितनी भी जरूरत मुताबिक निकासी होगी वह कर सकेंगे.